Kabir Ke Dohe Bura Jo Dekhan Main Chala Meaning in Hindi

संत कबीर दास के दोहे अर्थ सहित – Kabir Das Ke Dohe Arth Sahit

bura jo dekhan main chala – कबीर के दोहे बुरा जो देखने मैं चला दोहे का अर्थ

कबीर का दोहा:

बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय
जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा ना कोय

Kabir Ke Dohe Bura Jo Dekhan Main Chala Bura Na Milya Koi Meaning in Hindi:


कबीर के दोहे का अर्थ: महान कवि कबीर दास जी ने अपने इस दोहे में कहा है कि मैं इस दुनिया में दूसरों की बुराई ढूंढने निकला था। मगर, पता नहीं क्यों, मुझे सारे संसार में कोई बुरा व्यक्ति मिला ही नहीं। फिर मैंने अपने दिल में झांककर देखा, तो मुझे पता चला कि इस दुनिया में मुझसे बुरा कोई है ही नहीं, मैं ही सबसे बुरा प्राणी हूँ।

अपना उदाहरण देते हुए यहाँ कबीरदास जी ने समाज को शिक्षा दी है कि हे मानवों! इस दुनिया की बुराइयों को ढूंढने से पहले अपनी बुराइयाँ ढूंढो और उन्हें जड़ से ख़त्म कर दो। जब तुम ऐसा कर दोगे, तो तुम्हें इस पूरे संसार का कोई भी प्राणी बुरा नहीं लगेगा। इस तरह अपने दोहे में कबीर जी ने यह कामना की है कि हम सभी अपने मन में छिपी बुराइयों को पहचानें और उन्हें ख़त्म करने की दिशा में काम करें। जब हम सत्कर्म करेंगे, तभी तो हमारा मानव जन्म सफल होगा।

Bura Jo Dekhan Main Chala Doha in English

Bura Jo Dekhan Main Chala, Bura Naa Milya Koye
Jo Munn Khoja Apnaa, To Mujhse Bura Naa Koye

कबीर के दोहे अर्थ सहित: 

Tags:
kabir ke dohe bura jo dekhan main chala
bura jo dekhan main chala
bura jo dekhan main chala bura na milya koi
bura jo dekhan me chala
bura na dekhan main chala
bura jo dekhan main chala meaning
bura jo dekhan main chala mujhse bura na koi
bura jo dekhan main chala in hindi
kabir ke dohe bura jo dekhan main chala meaning
bura na dekhan main chala bura na milya koi
bura jo dekhan main chala kabir
bura jo dekhan main chala bura na milya koi song
bura jo dekhan main chala meaning in hindi
bura jo dekhan main chala doha in hindi
कबीर के दोहे बुरा जो देखने मैं चला

Leave a Comment