free live ipl match

प्रश्न 1: पानी के रात भर गिरने और प्राण-मन के धिरने में परस्पर क्या संबंध है?

उत्तर: इन पंक्तियों में सावन की बारिश को मन की भावनाओं से जोड़ा गया है। जिस प्रकार सावन की घोर बारिश से धरती पानी से भरती जा रही है उसी प्रकार कवि के प्राण और मन भी घर और परिवार की यादों से भरते जा रहे हैं।

जिस प्रकार कवि कहता है कि रात भर बारिश हुई , पानी गिर रहा है , गिरता ही जा रहा है, उसके कहने का आशय यह है कि घर की याद रात भर आयी अब भी आ रही है आती ही जा रही है और जिस प्रकार आकाश से पानी बरस रहा है उसी प्रकार उसकी आँखों से भी पानी गिर रहा है। 

प्रश्न 2: मायके आई बहन के लिए कवि ने घर को ‘परिताप का घर’ क्यों कहा है?

उत्तर: लड़की जब मायके आती है तब वह कुछ क्षण खुशी से बिताना चाहती है, अपने माता-पिता, भाई-बहनों के साथ यादें संजोना चाहती है। वैसे ही कवि की बहन भी अपने मायके आई होगी पर जब उसे पता चला होगा कि उसका एक भाई जेल में बंद है तो उसे कितना दुःख हुआ होगा। उसकी खुशी दुःख में बदल गयी होगी।

इसीलिए कवि ने मायके आयी बहन के लिए घर को ‘परिताप का घर‘ कहा है। 

प्रश्न 3: पिता के व्यक्तित्व की किन विशेषताओं को उकेरा गया है?

उत्तर: प्रस्तुत कविता में पिता को एक शक्तिशाली एवं भावुक व्यक्ति के रूप में उकेरा गया है। कवि के अनुसार उनके पिता को एक पल के लिए भी बुढ़ापा नहीं आया है। वो इतने साहसी हैं कि उन्हें ना मौत से डर लगता है ना ही शेर जैसे आदमखोर पशु से।

आज भी उनकी आवाज में बादलों जैसी गर्जना है। वो आज भी दौड़ लगाने की ताकत रखते हैं और यौवन से भरपूर हंसी से खिलखिलाते हैं। और उनके कामों की तो ऐसे गति है जिससे आंधी-तूफान भी शरमा जाएँ।

वो रोज गीता-पाठ करते हैं, दो सौ साठ दंड बैठक लगते हैं। इसके साथ ही वे आज भी मुगदर हिला कर उनकी मूठ से मूठ मिलाने की ताकत रखते हैं। और वे अपने पाँचवे बेटे को सोने पे सुहागा कहते हैं। और अपने पांचवे बेटे को याद करके आँसू बहाते हैं।  

प्रश्न 4: निम्नलिखित पंक्तियों में ‘बस ’ शब्द के प्रयोग की विशेषता बताइए-

मैं मजे में हूँ सही है
घर नहीं हूँ बस यही है
किंतु यह बस बड़ा बस है।
इसी बस से सब विरस हैं।

उत्तर: प्रस्तुत पंक्तियों में चार स्थानों पर ‘बस’ का प्रयोग किया गया है। सबसे पहले वाले स्थान पर ‘बस’ का अर्थ ‘केवल’ है। अर्थात अंतर केवल इतना ही है कि कवि  घर में नहीं है। दूसरे स्थान पर ‘बस‘ का अर्थ है ‘विवशता’ अर्थात कवि विवश है कि वह घर नहीं जा सकता है।

तीसरे स्थान पर ‘बस’ का अर्थ है ‘व्यथा’ अर्थात कवि बहुत ही व्यथित है कि वो घर नहीं जा सकता। चौथे स्थान पर ‘बस’ का अर्थ है ‘कारण‘ अर्थात इसी कारण सब कुछ नीरस हो गया है। 

प्रश्न 5: कविता की अंतिम 12 पंक्तियों को पढ़कर कल्पना कीजिए कि कवि अपनी किस स्थिति व मन:स्थिति को अपने परिजनों से छिपाना चाहता है?

उत्तर: कविता की अंतिम 12 पंक्तियों में कवि अपने दुःख को अपने परिजनों से छुपाना चाहता है। कवि जेल में बहुत दुःखी है , वह रातों को सो नहीं पाता , लोगों से दूर भगता है।

जेल के अत्याचार सह सह कर मौन हो गया है। वह स्वयं को भी पहचान नहीं पाता है। पर अगर उसके परिवार को उसके कष्टों का पता चलेगा तो उनको बहुत दुःख होगा। एक स्वतन्त्रता सेनानी के साथ इतना अत्याचार बहुत गलत है।

इसलिए वह अपनी पीड़ा को अपने परिवार से छुपाता है और सावन से अपने माता-पिता को झूठा संदेश देने को कहता है। 

Tags:
घर की याद कविता की व्याख्या
घर की याद कविता का सारांश
घर की याद प्रश्न उत्तर
घर की याद कविता के प्रश्न उत्तर 
घर की याद कविता का भावार्थ
ghar ki yaad poem 
ghar ki yaad poem meaning
ghar ki yaad poem explanation
ghar ki yaad poem  question answer 
ghar ki yaad poem summary
ghar ki yaad poem in hindi class 11
ghar ki yaad class 11
ghar ki yaad class 11 summary
ghar ki yaad class 11 question answer
class 11 hindi chapter ghar ki yaad